Startups कैसे शुरू करें? – हिंदी में

 

start a startup in India

start a startup with no money

start a startup while working

 

 

क्या आपके पास भी कोई Problem -solving Idea है?…

क्या आप भी Startup शुरू करने का सोच रहे?…

पर पता नहीं कैसे शुरुआत करें.

तो कोई बात नहीं

इस Article में हम भारत में Startup कैसे शुरू करें?…

एक startup को बनाने से लेकर चलाने तक में आपको

बहुत सा परिश्रम, एवं

कई बार Failure का भी सामना करना पड़ सकता है।

 

जैसा की सरल हिंदी में बोला जाता है की,

तन, मन और धन लगाकर काम करना होगा

तभी यह मुमकिन हो सकता है।

 

ऐसा बिलकुल भी नहीं है की,

आपने अपने startup को सफल बना लिया

और उसके प्रति गैर- जिम्मेदार हो गए।

आपको प्रत्येक वर्ष निरंतरता से काम करना होगा।

 

 

Start-1

 

 

 

उस पर चर्चा करने वाले है…

शुरुआत करने से पहले आप

पहले का Startup पर लिखा गया Article जरूर पढ़े..

 

 

स्टार्टअप कैसे शुरू करें?….

 

एक startup शुरू करने में बहुत सी चीज़ो का सामावेश होता है।

पर इस संक्षिप्त से Article में आपसे,

महत्वपूर्ण बिन्दुओ (points) का ही उल्लेख किया जाएगा।

 

 

A) एक Problem-solving Idea:-

 

startup ideas in India

startup ideas for students

 

एक अंग्रेजी कहावत से शुरुआत करूँगा

 

Well-begun is half done

 

जिसका मतलब है की अगर आप ने

शुरुआत अच्छी की तो

आधा काम तो हो ही गया समझो

एक startup  की सफलता

Problem-solving Idea पर बहुत ज्यादा निर्भर करती है।

 

 

Start-2

 

 

 

अब आप बोलोगे की यश 🙂

Idea तक तो ठीक था

ये Problem-solving Idea  क्या होता है।

तो इसका मतलब है की,

एक ऐसी युक्ति जिससे आप

किसी  (client या customer ) की प्रॉब्लम को solve कर रहे हो।

 

 

उदा:-

oyo startup story
oyo startup story in hindi

OYO Rooms एक startup है

Ritesh Agarwal जी का,

जिसकी सफलता की कहानी में उन्होंने बताया की

वे घूमने के बहुत शौक़ीन थे।

पर वे जहा भी Hotel में ठहरते,

तो उनको कुछ न कुछ शिकायत Hotel से रहती ही।

यह चिंता उन्हें बहुत परेशान करती थी।

तब ही उनके मन में आया की अगर

मै यह problem-face कर रहा हूँ

तो जाहिर सी बात है बाकी लोग भी कर रहे होंगे।

तब उन्हें OYO Rooms का Idea आया।

 

 

B) Funding Round :-

 

startup funding india

startup funding process

bootstrapping meaning

bootstrapping meaning in hindi

 

 

जैसा की मैंने पिछले Startup Article मेँ बताया था।

अपनी savings दोस्त एवं परिवार-जनों से लेकर की जाने वाली

Self-funding को Boot-strapping कहा जाता है।

Startup को scale एवं expand करने के लिए

Funding की मदद ली जाती है।

हर Idea एवं Founder की सोच पर भी

Funding की amount  निर्भर करती है।

कई बार यह फंडिंग Millions मेँ होती है।

एक बार funding मिल जाने पर

उसे सही ढंग से खर्च करना भी

Startup-Founder  की नैतिक जिम्मेदारी है।

अधिकतर Startup-founders अपनी प्राप्त

funding को Tech-upgradation मेँ खर्च करते है।

 

C) Team-Building :-

 

building a team for a startup

building a team from scratch

 

एक बार जब आप के पास एक Idea और

अच्छी-खासी funding है।

तो अब समय है एक बढ़िया Team को hire करने का

जो आपके Idea एवं आपमें विश्वास रखती हो।

शुरुआती दौर की टीम बहुत मजबूत होनी चाहिए

इसका खास ध्यान रखे।

इसीमेँ आप आपने startup के

लिए Co-founders भी ढूंढेंगे।

इससे आप और ज्यादा motivation के साथ काम कर पाएंगे।

आपको अब एक MVP (Minimum Viable Product) पर काम करना चाहिए।

 

D) MVP (Minimum Viable Product) :-

 

mvp full form

mvp meaning

mvp startup meaning

 

 

अब जब आपके पास एक Idea , funding एवं

शुरुआती team का arrangement हो गया है

तो अब आपको अपने idea से सम्बंधित

Market-research के साथ-साथ

एक MVP तैयार कर लेना है।

MVP का मतलब होता है बहुत ही

शुरुआती समय का Product

जो कम से कम समय , लागत से बना है।

जिसपर आप कुछ चुनिंदा शुरुआती Clients या customers

का फीडबैक ले सकते है और उसमे बदलाव करके

उसे और भी बेहतर कर सकते है।

 

E) Physical Workplace :- 

startup workplace in india

 

अभी तक हो सकता है की

आप और आपकी पूरी team

remotely या तो छोटी जगह से काम कर रही थी।

तो अब जरुरत है आपको अपना एक Physical Address देने की

हो सकता है आप कोई Place Lease पे लो या फिर

किसी Co-working space provider के साथ पार्टनर करके

आपको साथ मेँ अपने Personal-brand को भी grow करना चाहिए।

इसके चलते आपकी Startup-market मेँ reach और भी बढ़ेगी।

आपको इस पर भी खासा ध्यान देने की जरुरत।

 

E) Customer Base बढ़ाए:-

 

customer base meaning

customer based brand equity

 

 

अब जब आप अपने MVP मेँ client-feedback

के चलते निरंतर बदलाव कर रहे है।

उसके साथ आपको अपने Customer-base को भी बढ़ाना जरुरी है।

Loyal-customers-base आपको

अपनी जंग Long-term तक लढ़ने

का मौका दे सकता है।

इसके चलते आप अपने customers के साथ

 

 

  • Sales-process को बूस्ट कर सकते है।
  • अपने Brand की  मुफ्त प्रचार-प्रसार कर सकते है।
  • अपने brand को और ज्यादा विश्वसनीय बना सकते है।
  • मिलकर Products को और बेहतर कर सकते है। 
  • नए Products की Brain-storming कर सकते है।

 

 

F) भविष्य की सोचें:-

 

अगर खुदा-न-खास्ता, अगर Failure आ ही गया

तो भी अब तक आप

अपने startup को सभी और से जानते है।

इसके चलते आप आयी,

इस समस्या को आराम से सुलझा सकते है।

इस प्रक्रिया मेँ अपने startup के साथ-साथ

आप भी परिपक्व हुए है।

अब आप प्रक्रियाओं को Automate करके

भविष्य मेँ किसी दूसरे Venture

मेँ भी पदार्पण कर सकते है।

साथ ही साथ इसको भी और

ज्यादा स्केलेबल कर सकते है।

 

 

Bharat के कुछ सफलतम startups:-

 

 

a) BYJU’s 

byjus

byju raveendran

byju startup story

divya gokulnath and byju raveendran

 

यह एक प्रकार का Ed-tech startup है।

यह भारत का सबसे लोकप्रिय startup है।

हर भारतीय व्यक्ति BYJU’s के बारे मेँ जरूर जानता है।

इस startup को Byju’s Raveendran एवं

उनकी पत्नी Divya Gokulnath ने इसकी शुरुआत की

यह संस्था 12th की पढाई Application द्वारा करवाती है।

हालही मेँ यह भारत की सबसे ज्यादा

Valuation वाली startup बनी है।

बहुत जल्द वे अपने IPO की घोषणा करने वाले है।

 

 

 

b) CRED

kunal shah cred

kunal shah angel investment

 

Free-charge के पूर्व सह-संस्थापक Kunal-Shah 

द्वारा इसकी शुरुआत की गयी है।

यह एक Fin-tech startup है।

अधिकांश भारतीय

Credit-card के नाम से डरते है।

पर Kunal-Shah ने

इस pain-point को समझकर

Credit-card को और भी रोचक बना दिया है।

 

cred app advertisement

cred startup

cred story

 

CRED अपने रोचक काम से ज्यादा

अपनी अतरंगी Advertisements की वजह

से सुर्ख़ियों मेँ होता है।

एक Interview के दौरान

Kunal Shah ने बताया की

 

CRED एक  Customer-Acquisition के पीछे लगभग  727 रुपये खर्च करता है।

 

c) PayTM

paytm app

vijay shekhar sharma story

vijay shekhar sharma founder of paytm

 

PayTM की शुरुआत Vijay-Shekhar-Sharma ने की थी।

यह एक प्रकार का Digital Payment startup है।

इसमें आप बहुत तरह के Bill का भुगतान कर सकते है।

जैसे की DTH , Mobile-रिचार्ज, Electricity एवं Water-bill,

LIC-premium एवं Ticket-booking ….अन्य..

हालही मेँ घोषणा हुई है की

जल्द PayTM startup से एक Public-listed

company मेँ तब्दील हो जाएगी।

 

paytm ipo

 

PayTM इसी 2021 की आखिरी तिमाही

(OCT-DEC) मेँ अपना IPO issue करने वाली है।

समाप्त…!

 

 

 

तो इस Article मेँ हमने देखा की कैसे आप भारत मेँ,

दुनिया मेँ कही भी एक Startup कैसे शुरू कर सकते है।

उम्मीद करता हूँ आपको Article पसंद आया होगा।

अगर पसंद आये तो Article पर कमेंट जरूर करें, share भी करें।

मैं मिलता हूँ आपसे किसी ऐसे ही रोचक जानकारी के साथ

तब तक के लिए पढ़ते रहिये….

धन्यवाद….!

Leave a Comment

error: Content is protected !!