How to be Friends with Someone-हिंदी में

 

 

जैसा की हम सभी जानते है

मानव यह एक सामाजिक प्राणी है।

Friendship यह मानव जीवन को मिला हुआ

एक अनमोल तोहफा है।

एक अध्ययन के अनुसार,

दोस्ती की वजह से आपकी चिंता दूर होती है,

एवं आपके आत्मसम्मान में बढ़ोतरी

एवं शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य भी कुशल रहता है।

 

friends-1

 

 

गौरतलब है की

एक समय के बाद इंसान अपने आपको

अकेला महसूस करने लगता है।

और कई मामलों में Depression अवसाद का भी शिकार

हो जाता है।

 

यह भी पढ़े:- 5 आसान तरीके high-blood-pressure कम करने के  

 

हालांकि एक समय के बाद

अच्छी दोस्ती या संगत ढूंढ पाना

बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो जाता है।

 

Dost Kaise Banayein..

 

जैसे जैसे हम बड़े होने लगते है

हमारे स्कूल और कॉलेज के दोस्तों

का भी साथ छूटता जाता है।

नौकरी और पारिवारिक जिम्मेदारियों में 

समय कैसे बीत जाता है

पता भी नहीं चलता।

 

इस Article में  मैं आपसे कुछ ऐसे

tips साझा करने वाला हूँ,

जिससे आप अपने लिए Friends

बना सकेंगे।

और अपने अकेलेपन को भी दूर कर पाएंगे।

 

a) पहला कदम:-

 

जैसे किसी को प्यार करते समय आपको ही

आगे आकर पहला कदम लेना होता है,

ठीक उसी तरह दोस्ती का हाथ बढ़ाने के

लिए भी पहला कदम उठाने से घबराये नहीं।

 

Rejection के डर से आगे बढ़कर लोगों

दोस्ती करने के लिए प्रस्ताव

रखने का प्रयास अवश्य करें।

 

b) Community join करें :-

 

कई बार हमे दोस्त एक ही चीज़

में दिलचस्पी होने की वजह से

भी मिल सकते है।

 

इसीलिए ऐसी जगहों पर खोजे

जहां आपकी पसंदीदा चीज़े हो रही हो।

 

उदा:- अगर आप क्रिकेट खेलना पसंद करते है,

तो आप किसी क्रिकेट अकादमी में प्रवेश ले सकते है।

हो सकता है की आपको आपका नया दोस्त वहीं

मिल जाए।

 

आप धार्मिक स्थलों पर भी अपने

नए दोस्त की तलाश कर सकते है।

 

kisi ko dost kaise banaye

facebook par dost kaise banaye

 

 

c) Hobbies पर ध्यान दें:-

 

अकेलेपन को दूर करने के लिए

आप अपने शौक (hobbies) पर

भी ध्यान केंद्रित कर सकते है।

रोजमर्रा के व्यस्त जीवन से

थोड़ा समय निकालकर

अपने बचपन की यादों को

भी ताजा कर सकते है।

 

आप अपने नए दोस्त को

किसी पेंटिंग क्लास या

म्यूजिक क्लास में भी मिल सकते है।

या किसी ज़ुम्बा या एरोबिक क्लास में

भी , या किसी किताबों से भरी

library में

 

इसीलिए Hobbies को ना भूलकर

उस पर समय एवं ध्यान केन्द्रत कर सकते है।

 

d) Open-minded :-

 

कोई किसी को judge करें

ये किसी को पसंद नहीं है।

इसीलिए जब किसीको भी दोस्ती के लिए

approach करो तो खुले दिमाग से करो

 

चाहे कपड़ों से हो या बातों से

या फिर किसी के शारीरिक या

मानसिक स्वभाव से किसी को भी

judge मत कीजिये

 

कोई गरीब हो या अमीर

किसी भी मापदंड में तोलोगे

तो आप के हाथ लगेगी सिर्फ निराशा

 

किसी से बात करते वक़्त अपने

आप पर नियंत्रण रखे और बिना कोई

judgement पास किये उनकी बातों को

सुनने का प्रयास करें

 

e) दोस्ती को समय दें  :-

 

किसी से दोस्ती करना

मेहनत का काम है।

पर वहीं मौजूदा

Friendships को भी समय देना जरुरी है।

 

किसी भी दोस्ती को गहरा करने के लिए

आपको अपने समय के साथ-साथ

ऊर्जा, पैसा और बहुत सी चीज़ो को

निवेश (invest) करना जरुरी है।

 

अगर आप अपने व्यस्त दैनिक

जीवन के कारण दोस्त को समय नहीं

दें पा रहे है तो आपको

अपने busy-schedule में से

कुछ समय देना बहुत जरुरी है।

 

क्योंकि जब भी आपके जीवन में कठिनाई

आएगी तो ये दोस्त ही आपको समय में

काम आएंगे।

इसीलिए आपको अपनी दोस्ती को बरकरार रखने

के लिए कुछ समय निकालना आवश्यक है।

 

 

f) Bonus :-

 

इसके अलावा आप

internet की सहायता से भी

दोस्त बना सकते है।

Covid-19 pandemic

के बाद से ही एक तरह की

Digital  क्रांति आयी है।

उसी के चलते बहुत से

लोग घर से ही नेट की मदद से

हर काम कर रहे है।

आप भी अपने दोस्त की खोज

फेसबुक के ग्रुप्स के द्वारा भी पूर्ण

कर सकते है।

 

acche dost kaise banaye

 

इसके अलावा आप

अपने आपको जानकार

(self-realisation) के माध्यम से

आत्मसम्मान (self-confidence)

में भी बढ़ोतरी लाकर

भी दोस्त की फ़ौज खड़ी कर सकते है।

जब आप खुद को जान लेंगे तो

औरों को जानने में भी आसानी होगी।

 

(self-realisation) प्राप्त करने का

तरीका है Meditation

जिसे ध्यान केंद्रित करना भी कहा जाता है।

यह आपके सर्वांगिण विकास में भी

कारगर साबित होगा।

 

किसी भी उम्र में दोस्त बनाना एक

मुश्किल काम है।

पर आप पाएंगे की

अपने आस-पास ही बहुत से

समान पसंद या नापसंद

वाले बहुत लोग है।

 

(उम्मीद करता हूँ की आपको एक नया दोस्त – साथी जल्द मिल जाए)

 

धन्यवाद्……

Leave a Comment

error: Content is protected !!